Anmol Suvichar - Hindi Quotes

Best Collection Of Anmol Vachan, Hindi Suvichar, Hindi Quotes Images

Sai Bhajans

Hey Sai Nath Tere Mandir Mein Aaye Hai Hum Fariyaadi Darshan De Apne Bhakto Ko Sai Tod De Aaj Samadhi Sai

हे साईं नाथ तेरे मन्दिर में आये है हम फ़रिआदी |
दर्शन दे अपने भक्तो को, साईं तोड़ दे आज समाधी साईं ||

दिल नहीं लगता कहीं हमारा अब तो इस संसार मे |
आये है हम साईं बाबा तेरे ही दरबार मे ||

जब से तेरा रहम हुआ है, सवर गया है जीवन |
जी करता है करदे अर्पण, तुझ को अपना तन मन |
करें बस तेरी भक्ति, लगा के पूरी शक्ति ||
डूबा रहे मन हर पल हर दिन अब तेरे ही प्यार मे |
आये है हम साईं बाबा तेरे ही दरबार मे ||



हम को अपनी नज़रों से तू कभी ना गिरने देना |
हम पर हैं जो नज़रे तेरी उन्हें ना फिरने देना |
रहें हम तेरी नजर मे हमेशा तेरी नज़र मे ||
जीवन का हर लम्हा गुजरे बस तेरे ही द्वार मे |
आये है हम साईं बाबा तेरे ही दरबार मे ||

Updated: July 12, 2015 — 6:53 am

Vo Sai Nath Hai Har Jagah Mere Sath Hai

भव सागर से पार है जाना, बंदे रब का दर्शन पाना,
ॐ साईं नाथ जप ले, ॐ साईं नाथ जप ले |

भक्तो के प्यारे, दुनिया के सहारे,
जो सब के काम सवारे, दुखियो के कष्ट निवारे,
वो साईं नाथ है, हर जगह मेरे साथ है |

पत्थर जो छू ले बाबा, सोना कर देते हैं |
रोगीओ के रोग सारे, आप हर लेते हैं ||
जो डूब रहा है मझदारे, वो मुख से साईं पुकारे, उसे आप लगते पार हैं,
वो साईं नाथ है, हर जगह मेरे साथ है ||

साईं की निगाह में कोई, ऊँचा नाही नीचा है |
एक ही मिटटी से सारी बगिया से सींचा है ||
धरती पे फुल जो सारे , अम्बर के सभी सारे सितारे, है जिन पे सभी बलिहारे,
वो साईं नाथ है, हर जगह मेरे साथ हैं ||

सारे जगत के बाबा साईं दयावान हैं |
एक ही सब के मालिक, एक भगवान् हैं ||
ए मेरे सतगुरु प्यारे, ए मेरे अल्ला प्यारे, कहे सब के राम दुलारे,
वो साईं नाथ हैं, हर जगह मेरे साथ हैं ||

Updated: July 12, 2015 — 6:54 am

Shirdi Ke Sai Baba Bigdi Meri Bana Tere Dar Pe Aa Gaya Hai Tera Yeh Ek Diwana

शिर्डी के साईं बाबा बिगड़ी मेरी बनाना |
तेरे दर पे आ गया है, तेरा यह इक दीवाना ||

किसी ने कहा तू है देवो का राजा,
किसी ने कहा बाबा मेरे पास आजा |
किसी का तू भोला, किसी का कहना,
सब के तू दिल का सहारा बने |
तेरी रहमतो से ही है चलता सारा ज़माना ||

सभी पे कृपा करना, सदा कष्टों को हारना,
तेरा दामन न छूटे, चाहे यह दुनिया रूठे,
भाबुती ले जो तेरी, ख़ुशी से दामन भरना,
सभी को गले लगाना, सच्चा रास्ता दिखलाना,
सच्चाई ऐसी दौलत है, कभी जो कम नहीं होती,
मुसीबत लाख आ जाए, जीत सच्चाई की होती,
साईं की जो महिमा है गाते, श्रद्धा सबरी में डूब जाते,
उनका है यह ज़माना |
सब का है एक मालक, फिर से बताते जाना ||



तेरी रहमतो से बाबा सब को मिले सहारे,
हम पर भी दया करना, हम भी तो है तुम्हारे |
सिर पे जो हाथ रख दो, भर जाते हैं भंडारे,
भक्ति की दौलते दो, हो जाए वारे न्यारे |

तेरी शिर्डी में आना है, हमें भी दर्शन पाना है |
तेरी नगरी को देखेंगे, तेरा गुणगान गाना है ||
तेरा बछडा कमल दीवाना, शशि विजय गाते हैं तराना, सब को सुनायेंगे |
दिल तो मेरा यह चाहे चरणों में हो ठिकाना ||

Updated: July 12, 2015 — 6:54 am

Kamli Ho Ke Darbaar Mein Roz Nachun Sai Naam Ka Chehre Pe Noor Howe

कमली हो के दरबार मैं रोज़ नाचूं, साईं नाम का चेहरे पे नूर होवे |
तुम्बा जिंदड़ी दा, भक्ति दी तार पाके, करूँ भजन जे साईं मंज़ूर होवे ||

साईं जी तेरे दर्शन को, मैं तो जोगन बन के आऊँ |
लेके एक तारा प्रेम का, तेरे नाम की महिमा गाऊं ||

धोती कुरता, सिर पे रूमाला, साईं मेरे का रूप निराला |
है कांधे झोली लटक रही, ऐसे रूप में लगन लगाऊं ||
साईं जी तेरे दर्शन को, मैं तो जोगन बन के आऊँ ||

कण कण में साईं का डेरा, भेद कोई क्या जाने तेरा |
चेहरे पे नूर बड़ा, कैसे तुझ से मैं नज़रे मिलाऊं ||
साईं जी तेरे दर्शन को, मैं तो जोगन बन के आऊँ ||

सब का मालिक एक उचारे, सब की कश्ती पार उतारे |
मेरा सी दीवानी बन के, अपने साईं को रिझाऊं ||
साईं जी तेरे दर्शन को, मैं तो जोगन बन के आऊँ ||

नीम के नीचे दर्श दिखाए, आ शिर्डी में कष्ट मिटाए |
शशिकमल की तान सुन के, हो के कमली मैं शोभा तेरी गाऊं ||
साईं जी तेरे दर्शन को, मैं तो जोगन बन के आऊँ ||

Updated: July 12, 2015 — 6:55 am

Sai Ji Mein Teri Patang Satguru Mein Teri Patang Hawa Wich Ud Di Jawangi

ॐ जय साईं ॐ जय साईं ॐ।
ॐ जय साईं ॐ जय साईं ॐ॥

साईं जी मै तेरी पतंग, सतगुरु मैं तेरी पतंग,
हवा विच उडदी जावांगी, हवा विच उडदी जावांगी।
साईंया डोर हाथों छोड़ी ना, मैं कट्टी जावांगी॥

तेरे चरना दी धूलि साईं माथे उते लावां,
करा मंगल साईंनाथ गुण तेरे गावां।
साईं भक्ति पतंग वाली डोर, अम्बरा विच उडदी फिरा॥

बड़ी मुश्किल दे नाल मिलेय मेनू तेरा दवारा है।
मेनू इको तेरा आसरा नाले तेरा ही सहारा है।
हुन तेरे ही भरोसे, हवा विच उडदी जावांगी,
साईंया डोर हाथों छोड़ी ना, मैं कट्टी जावांगी॥

ऐना चरना कमला नालो मेनू दूर हटावी ना।
इस झूठे जग दे अन्दर मेरा पेचा लाई ना।
जे कट गयी ता सतगुरु, फेर मैं लुट्टी जावांगी,
साईंया डोर हाथों छोड़ी ना, मैं कट्टी जावांगी॥

अज्ज मलेया बूहा आके मैं तेरे द्वार दा।
हाथ रख दे एक वारि तूं मेरे सर ते प्यार दा।
फिर जनम मरण दे गेडे तो मैं बच्दी जावांगी,
साईंया डोर हाथों छोड़ी ना, मैं कट्टी जावांगी॥

Updated: July 12, 2015 — 6:55 am

Recent Posts




Anmol Suvichar - Hindi Quotes © 2015