Anmol Suvichar - Hindi Quotes

Best Collection Of Anmol Vachan, Hindi Suvichar, Hindi Quotes Images

Hindi Stories With Moral

Very Inspiring Hindi Story With Moral : Kisan Aur Chattan (Farmer & Stone)

Very Inspiring Hindi Story With Moral : Kisan Aur Chattan (Farmer & Stone)
Most
Inspirational Stories In Hindi, Motivational Hindi Stories, Short Inspirational
Stories, Heart Touching Hindi Stories, Hindi Stories With Moral, Short
Inspiring Stories :
एक किसान था.
वह एक
बड़े से
खेत में
खेती किया
करता था.
उस खेत
के बीचो-बीच पत्थर
का एक
हिस्सा ज़मीन
से ऊपर
निकला हुआ
था जिससे
ठोकर खाकर
वह कई
बार गिर
चुका था
और ना
जाने कितनी
ही बार
उससे टकराकर
खेती के
औजार भी
टूट चुके
थे.
रोजाना की तरह
आज भी
वह सुबह-सुबह खेती
करने पहुंचा
पर जो
सालों से
होता आ
रहा था
एक वही
हुआ , एक
बार फिर
किसान का
हल पत्थर
से टकराकर
टूट गया.
किसान बिल्कुल क्रोधित
हो उठा
, और उसने
मन ही
मन सोचा
की आज
जो भी
हो जाए
वह इस
चट्टान को
ज़मीन से
निकाल कर
इस खेत
के बाहर
फ़ेंक देगा.
वह तुरंत भागा
और गाँव
से ४-५ लोगों
को बुला
लाया और
सभी को
लेकर वह
उस पत्त्थर
के पास
पहुंचा .
” मित्रों “, किसान बोला
, ” ये देखो
ज़मीन से
निकले चट्टान
के इस
हिस्से ने
मेरा बहुत
नुक्सान किया
है, और
आज हम
सभी को
मिलकर इसे
जड़ से
निकालना है
और खेत
के बाहर
फ़ेंक देना
है.”
और ऐसा कहते
ही वह
फावड़े से
पत्थर के
किनार वार
करने लगा,
पर ये
क्या ! अभी
उसने एक-दो बार
ही मारा
था की
पूरा-का
पूरा पत्थर
ज़मीन से
बाहर निकल
आया. साथ
खड़े लोग
भी अचरज
में पड़
गए और
उन्ही में
से एक
ने हँसते
हुए पूछा
,” क्यों भाई
, तुम तो
कहते थे
कि तुम्हारे
खेत के
बीच में
एक बड़ी
सी चट्टान
दबी हुई
है , पर
ये तो
एक मामूली
सा पत्थर
निकला ??”
किसान भी आश्चर्य
में पड़
गया सालों
से जिसे
वह एक
भारी-भरकम
चट्टान समझ
रहा था
दरअसल वह
बस एक
छोटा सा
पत्थर था
!! उसे पछतावा
हुआ कि
काश उसने
पहले ही
इसे निकालने
का प्रयास
किया होता
तो ना
उसे इतना
नुक्सान उठाना
पड़ता और
ना ही
दोस्तों के
सामने उसका
मज़ाक बनता.
मित्रों, इस किसान की
तरह ही
हम भी
कई बार
ज़िन्दगी में
आने वाली
छोटी-छोटी
बाधाओं को
बहुत बड़ा
समझ लेते
हैं और
उनसे निपटने
की बजाये
तकलीफ उठाते
रहते हैं.
ज़रुरत इस
बात की
है कि
हम बिना
समय गंवाएं
उन मुसीबतों
से लडें
, और जब
हम ऐसा
करेंगे तो
कुछ ही
समय में
चट्टान सी
दिखने वाली
समस्या एक
छोटे से
पत्थर के
समान दिखने
लगेगी जिसे
हम आसानी
से ठोकर
मार कर
आगे बढ़
सकते हैं.


Updated: May 17, 2015 — 9:08 am

MUST READ : Inspirational Story in Hindi – एक छिपकली की हमदर्दी

Inspirational Stories in Hindi – एक छिपकली की हमदर्दी
Most Inspirational Stories In Hindi, Motivational Hindi Stories, Short Inspirational Stories, Heart Touching Hindi Stories, Hindi Stories With Moral, Short Inspiring Stories : 
एक जापानी अपने मकान
की मरम्मत केलिए
उसकी दीवार को
खोल रहा था।
ज्यादातर जापानी घरों में
लकड़ी की दीवारो
के बीच जगह
होती है। जब
वह लकड़ी की
इस दीवार को
उधेड़ रहा तो
उसने देखा कि
वहां दीवार में
एक छिपकली फंसी
हुई थी। छिपकली
के एक पैरमें
कील ठुकी हुई
थी। उसने यह
देखा और उसे
छिपकली पर रहम
आया। उसने इस
मामले में उत्सुकता
दिखाई और गौर
से उस छिपकली
के पैर में
ठुकी कील को
देखा।
अरे यह क्या!
यह तो वही
कील है जो
दस साल पहले
मकान बनाते वक्त
ठोकी गई थी।
यह क्या !!!!
क्या यह छिपकली
पिछले दस सालों
से इसी हालत
से दो चार
है?
दीवार के अंधेरे
हिस्से में बिना
हिले-डुले पिछले
दस सालों से!!
यह नामुमकिन है।
मेरा दिमाग इसको
गवारा नहीं कर
रहा।
उसे हैरत हुई।
यह छिपकली पिछले
दससालों से आखिर
जिंदा कैसे है!!!
बिना एक कदमहिले-डुले जबकि
इसके पैर में
कील ठुकी है!
उसने अपना काम
रोक दिया और
उस छिपकली को
गौर से देखने
लगा। आखिर यह
अब तक कैसे
रह पाई और
क्या और
किस तरह की
खुराक इसे अब
तक मिल पाई।
इस बीच एक
दूसरी छिपकली ना
जाने कहां से
वहां आई जिसके
मुंह में खुराक
थी। अरे!!!!! यह
देखकर वह अंदर
तक हिल गया।
यह दूसरी छिपकली
पिछले दस सालों
से इस फंसी
हुई छिपकली को
खिलाती रही।
जरा गौर कीजिए
वह दूसरी छिपकली
बिना थके और
अपने साथी की
उम्मीद छोड़े बिना लगातार
दस साल से
उसे खिलाती रही।
क्या आदमी किसी
के लिए ऐसा
कर सकता है??

अगर एक छोटा
सा जीव ऐसा
कर सकता है
तो वह जीव
क्यों नहीं जिसको
ईश्वर ने सबसे
ज्यादा अक्लमंद बनाया है??

If you really like this story…Please don’t forget to share it with your friends….

Updated: May 17, 2015 — 9:08 am

Inspirational Story In Hindi, Moral Story In Hindi

Inspirational Story In Hindi, Moral Story In Hindi
Inspirational Story In Hindi, Moral Story In Hindi
एक लड़का और लड़की
साथ में खेल
रहे थे. लड़के
के पास बहुत सुंदर कंचे थे.
लड़की के पास
कुछ टॉफियां थीं.
लड़के ने लड़की
से कहा कि
वह टॉफियों के
बदले में अपने सारे कंचे लड़की
को दे देगा.
लड़की मान गई.
लेकिन लड़के ने चुपके
से सबसे खूबसूरत
दो- तीन कंचे दबा
लिए और बाकी
कंचे लड़की को
दे दिए. बदले में लड़की ने अपनी
सारी टॉफियां लड़के
को दे दीं. उस रात लड़की कंचों को निहारते
हुए खुशी से
सोई. लेकिन लड़का इसी सोच
में डूबा रहा
कि कहीं लड़की
ने भी चालाकी करके उससे
कुछ टॉफियां तो
नहीं छुपा लीं!
सीखः यदि तुम
किसी रिश्ते में
सौ-फीसदी ईमानदार नहीं रहोगे तो तुम्हें
अपने साथी पर
हमेशा शक होता
रहेगा….

Updated: May 17, 2015 — 9:08 am
loading...
Anmol Suvichar - Hindi Quotes © 2015